Nafrat Karo | Dosti Shayari in Hindi

dosti shayari

नफरत करो उनसे जो भुलाना जानते हों,
रूठो उनसे जो मनाना जानते हों,
प्यार करो उनसे जो निभाना जानते हों,
दोस्ती उनसे जो दिल लुटाना जानते हों।

(Visited 120 times, 1 visits today)

Leave a Reply

close
 Blogs - OnToplist.com