vicky

lamha shayari status whatsapp images

Agar Zindagi Mein Judai Na Hoti,
To Kabhi Kisi Ki Yad Aai Na Hoti,
Sath Hi Guzarta Har Lamha To,
Shayed Rishto Mein Itni Gehrai Na Hoti.

अगर ज़िन्दगी में जुदाई न होती,
तो कभी किसी की याद आई ना होती,
साथ ही गुजरता हर लम्हा तो,
शायद रिश्तों में इतनी गहराई ना होती।

Aksar Gumsum Rahne Wala Nagma Hun Main,
Aapki Yaado Me Rehne Wala Lamha Hun Main,
Aap Meri Jaan Ho To Ek Baat Batao,
Aapke Hote Huye Bhi Kyu Tanha Hu Main.

अकसर गुमसुम रहने वाला नग्मा हूँ मैं,
आपकी यादो में रहने वाला लम्हा हूँ मैं,
आप मेरी जान हो तो एक बात बताओ,
आपके होते हुए भी क्यों तन्हा हूँ मैं।

 

Bas Gaye Ho Dil Me Is Kadar Aap Hamare,
Ki Kisi Aur Shakhs Ka Khayal Tak Nahi Aata,
Gujar Jati Hain Ratein Ankho Hi Ankho Me,
Dil Ko Ek Lamha Bhi Chain Nahi Ata.

बस गए हो दिल में इस कदर आप हमारे,
की किसी और शख्स का ख्याल तक नहीं आता,
गुजर जाती हैं रातें आँखों ही आँखों में,
दिल को एक लम्हा भी चैन नहीं आता।

Dil Se Roye Magar Hotho Se Muskura Baithe,
Yun Hi Hum Kisi Se Wafa Nibha Baithe,
Wo Hamein Ek Lamha Na De Paye Pyaar Ka,
Aur Hum Unke Liye Zindgi Luta Baithe.

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बैठे,
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे,
वो हमे एक लम्हा न दे पाए प्यार का,
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बैठे।

Ek To Teri Aawaz Yaad Aayegi,
Teri Kahi Hui Har Baat Yaad Aayegi,
Din Dhal Jayega, Raat Ko Yaad Aayegi,
Har Lamha Pahli Mulakat Yaad Aayegi.

एक तो तेरी आवाज़ याद आएगी,
तेरी कही हुई हर बात याद आएगी,
दिन ढल जायेगा, रात को याद आएगी,
हर लम्हा पहली मुलाकात याद आएगी।

Har Lamha Apni Palkon Par Bithaya Tujhe,
Phir Bhi Ye Ishq Mera Na Raas Aaya Tujhe,
Kismat Ki Bhi Hai Yeh Ajeeb Dastan,
Kabhi Hasaya To Kabhi Rulaya Mujhe.

हर लम्हा अपनी पलकों पर बिठाया तुझे,
फिर भी ये इश्क़ मेरा न रास आया तुझे,
किस्मत की भी है यह अजीब दास्ताँ,
कभी हसाया तो कभी रुलाया मुझे।

Is Dil Ko Agar Tera Ehsaas Nahi Hota,
Tu Door Bhi Reh Kar Ke Yun Paas Nahi Hota,
Is Dil Ne Teri Chahat Kuch Aise Basali Hai,
Ek Lamha Bhi Tujh Bin Kuch Khas Nahi Hota.

इस दिल को अगर तेरा एहसास नहीं होता,
तू दूर भी रह कर के यूँ पास नहीं होता,
इस दिल ने तेरी चाहत कुछ ऐसे बसाली है,
एक लम्हा भी तुझ बिन कुछ खास नहीं होता।

Jalne Do Zamane Ko Chalo Ek Saath Chalte Hain,
Nayi Duniya Basane Ko Chalo Ek Saath Chalte Hain,
Humein Jeevan Ka Har Lamha Tumhare Naam Karna Hai,
Yahi Vaada Nibhane Ko Chalo Ek Saath Chalte Hain.

जलने दो ज़माने को चलो एक साथ चलते हैं,
नयी दुनिया बसाने को चलो एक साथ चलते हैं,
हमें जीवन का हर लम्हा तुम्हारे नाम करना है,
यही वादा निभाने को चलो एक साथ चलते हैं।

 

Laakh Bandisen Laga Le Duniya Hum Par,
Magar Dil Par Kaabu Nahi Kar Payenge,
Wo Lamha Aakhiri Hoga Zindagi Ka Hamara,
Jis Din Hum Yaar Tujhe Bhool Jayenge.

लाख बंदिशें लगा ले दुनिया हम पर,
मगर दिल पर काबू नहीं कर पाएंगे,
वो लम्हा आखिरी होगा ज़िन्दगी का हमारा,
जिस दिन हम यार तुझे भूल जायेंगे।

 

Mera Har Lamha Chura Liya Aapne,
Aankhon Ko Ek Chand Dikha Diya Aapne,
Hamein Zindagi Di Kisi Aur Ne,
Par Pyaar Itna Dekar Jeena Sikha Diya Aapne.

मेरा हर लम्हा चुरा लिया आपने,
आँखों को एक चाँद दिखा दिया आपने,
हमें ज़िन्दगी दी किसी और ने,
पर प्यार इतना देकर जीना सिखा दिया आपने।

Sapno Mein Ek Pyara Dost Roz Aata Hai,
Sath Guzre Har Lamhe Ki Yaad Dilata Hai,
Dil Karta Hai Ye Lamha Yun Hi Ruka Rahe,
Par Subah Hote Hi Khwab Toot Jata Hai.

सपनो में एक प्यारा दोस्त रोज़ आता है,
साथ गुज़रे हर लम्हे की याद दिलाता है,
दिल करता है ये लम्हा यूँ ही रुका रहे,
पर सुबह होते ही ख्वाब टूट जाता है।

Teri Awaaz Sunne Ko Tarshta Hai Dil Mera,
Teri Ek Jhalak Pane Ko Bekarar Hai Dil Mera,
Apni Zindagi Ka Har Lamha Tere Saath Guzaru,
Har Pal Bas Yehi Chahta Hai Dil Mera.

तेरी आवाज़ सुनने को तरश्ता है दिल मेरा,
तेरी एक झलक पाने को बेकरार है दिल मेरा,
अपनी ज़िन्दगी का हर लम्हा तेरे साथ गुज़ारू,
हर पल बस यही चाहता है दिल मेरा।

Utna Haseen Phir Koyi Lamha Nahi Nahi Mila,
Tere Jaane Ke Baad Koyi Bhi Tujh Sa Nahi Mila,
Socha Karun Main Ek Din Khud Se Hi Guftgu,
Lekin Kabhi Main Khud Ko Tanha Nahi Mila.

उतना हसीन फिर कोई लम्हा नहीं मिला,
तेरे जाने के बाद कोई भी तुझ सा नहीं मिला,
सोचा करूँ मैं एक दिन खुद से ही गुफ्तगू,
लेकिन कभी मैं खुद को तन्हा नहीं मिला।

Yaadein Karbat Badal Rahi Hain
Aur Main Tanha Tanha Sa Hun,
Waqt Bhi Jis Se Rooth Gaya Hai
Main Wo Bebas Lamha Hun.

यादें करवट बदल रही हैं
और मैं तनहा तनहा सा हूँ,
वक़्त भी जिससे रूठ गया है
मैं वो बेबस लम्हा हूँ।

Yaad Mein Teri Kaise Din Gujare Hain,
Puchho Na Hamse Aalam Wo Dooriyon Ka,
Kanto Ki Tarah Chubhta Raha Wo Lamha,
Ro Ro Kar Gujara Hai Har Pal Tanhai Ka.

याद में तेरी कैसे दिन गुजरे हैं,
पूछो न हमसे आलम वो दूरियों का,
काँटों की तरह चुभता रहा वो लम्हा,
रो रो कर गुजरा है हर पल तन्हाई का।

(Visited 4 times, 1 visits today)

Leave a Reply