Bewafa Shayari in Hindi Images Collection –  Emotional Heart Touching Romantic, Sad Love Bewafa Hindi Shayari with images and Best SMS Collection that you will love to read.

Bewafa Shayari hindi images are perfect if you had a break up . You can express your feeling and emotions with these bewafa shayari images. You can share on whatsapp and facebook or make whatsapp dp profile pic.
Do you know – Bewafa shayari in hindi or english is as much as popular bewafa shayari in urdu.
Aapko bewafa shayari hindi mein, english mein ya urdu mein …kisi bhi bhasha mein mil jayegi . Bewafa shayari sms ,messages ko aap whatsapp status dp profile pic laga sakte hain . Aur aap apne bewafa shayari hindi photos friends ke saath bhi share kar sakte hain.
Bewafa shayari video status bahut popular hai aur bahut se log whatsapp messages mein shayari status send karte hain.

Aag dil mein lagi jab wo khafa ho gaye
Mehsoos hua tab jab wo juda ho gaye
Kar ke wafa kuchh de na sake wo humein
par bahut kuchh de gaye jab bewafa ho gaye

आग दिल में लगी जब वो खफ़ा हो गए,
महसूस हुआ तब जब वो जुदा हो गए,
कर के वफ़ा कुछ दे ना सके वो हमें,
पर बहुत कुछ दे गए जब बेवफ़ा हो गए ।

Images of bewafa shayari sad photos

Aap bewafa honge socha nahi tha
Aap bhi kabhi khafa honge socha nahi tha
Jo geet likhe the kabhi pyar mein tere
Wahi geet rusva honge socha hi nahi tha

आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार पर तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।

Ab bhi tadap raha hai tu uski yaad mein,
Us bewafa ne tere baad kitne bhula diye

अब भी तड़प रहा है तू उसकी याद में,
उस बेवफा ने तेरे बाद कितने भुला दिए।

Bewafa Shayari image for whatsapp status dp profile pic

Apne tajurbe ki aazmaaish ki zid thi
Warna humko pata tha ki tum bewafa ho jaoge

अपने तजुर्बे की आज़माइश की ज़िद थी,
वर्ना हमको था मालूम कि तुम बेवफा हो जाओगे।

 

Bahut sukoon milta hai jab unse hamari baat hoti hai
hazaaron raaton mein wo ek raat hoti hai
Jab nigaahein utha kar dekhte hain wo meri taraf
Tab wo hi pal mere liye poori kaaynaat hoti hai

बहुत सुकून मिलता है जब उनसे हमारी बात होती है,
हजारो रातों में वो एक रात होती है,
जब निगाहें उठा कर देखते हैं वो मेरी तरफ,
तब वो ही पल मेरे लीये पूरी कायनात होती है।

Bewafa Shayari in hindi for love bewafa sanam shayari

Bewafa se dil laga liya nadaan the hum
Galti humse huyi kyunki insaan the hum
Aaj jinhe nazarein milane mein takleef hoti hai
Kuchh samay pehle unki jaan the hum

बेवफा से दिल लगा लिया नादान थे हम,
गलती हमसे हुई क्योंकि इंसान थे हम,
आज जिन्हें नज़रें मिलाने में तकलीफ होती है,
कुछ समय पहले उनकी जान थे हम।

 

Bewafa Shayari Wallpaper Download HD Photos

Bewafai ka mausam bhi
ab yahan aane laga hai
wo phir se kisi aur ko
dekh kar muskurane laga hai

बेवफायी का मौसम भी
अब यहाँ आने लगा है,
वो फिर से किसी और को
देख कर मुस्कुराने लगा है ।

Bewafai uski dil se mita ke aaya hoon
Khat bhi uske paani mein baha ke aaya hoon
Koi pad na le us bewafa ki yaadon ko
Isiliye paani mein bhi aag laga kar aaya hoon

बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ,
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।

 

Bhale kisi gair ki jaagir thi wo
Par mere khwaabon ki tasweer thi wo
Mujhe milti to kaise milti
Kisi aur ke hisse ki taqdeer thi wo.

भले किसी ग़ैर की जागीर थी वो,
पर मेरे ख्वाबों की तस्वीर थी वो,
मुझे मिलती तो कैसी मिलती…
किसी और के हिस्से की तकदीर थी वो ।

 

Bichchad ke tum se zindagi sazaa lagti hai
Ye saans bhi jaise mujhse khafa lagti hai
Tadap uth-ta hoon dard ke maare
Zakhmon ko jab tere shaher ki hawa lagti hai

बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा लगती है,
यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है,
तड़प उठता हूँ दर्द के मारे,
ज़ख्मों को जब तेरे शहर की हवा लगती है,
अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किस से करूँ,
मुझ को तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा लगती है।

 

Bewafa Shayari hindi image 

 

Chalo khelein wahi baazi
Jo purana khel hai tera
Tu phit se bewafayi karna
Main phir aansu bahaunga

चलो खेलें वही बाजी
जो पुराना खेल है तेरा,
तू फिर से बेवफाई करना
मैं फिर आँसू बहाऊंगा।

 

Chhod gaye humko akele hi raahon mein
chal diye rehne wo auro ki panaahon mein
Shayad meri chahat unhe raas nahi aayi
Tabhi to simat gaye wo gair ki baahon mein

छोड़ गए हमको वो अकेले ही राहों में,
चल दिए रहने वो औरों की पनाहों में,
शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आई,
तभी तो सिमट गए वो गैर की बाहों में।

 

Dhoond to lete apne pyar ko hum
Shaher mein bheeditni bhi na thi
Par rok di talaash humne
kyunki wo khoye nahi badal gaye the.

ढूंढ़ तो लेते अपने प्यार को हम,
शहर में भीड़ इतनी भी न थी,
पर रोक दी तलाश हमने,
क्योंकि वो खोये नहीं बदल गए थे।

 

 

Bewafa Shayari wallpaper download

 

Eh bewafa teri bewafai mein dil bekarar na karun
Agar tu keh de to tera intzaar hi na karun
Tu bewafa hai to kuchh iss kadar bewafai kar
ki tere baad main kisi aur se pyar hi na karun

ऐ बेवफा तेरी बेवफ़ाई में दिल बेकरार ना करूँ,
अगर तू कह दे तो तेरा इंतेज़ार ही ना करूँ,
तू बेवफा है तो कुछ इस कदर बेवफ़ाई कर,
कि तेरे बाद मैं किसी से प्यार ही ना करूँ।

 

एक बेवफा से प्यार का अंजाम देख लो,
मैं खुद ही शर्मशार हूँ उससे गिला नहीं,
अब कह रहे हैं मेरे जनाज़े पे बैठ कर,
यूँ चुप हो जैसे हमसे कोई वास्ता नहीं।
~रईस बरेलवी

 

Har

हर रात उसको इस तरह से भुलाता हूँ,
दर्द को सीने में दबा के सो जाता हूँ।

सर्द हवाएँ जब भी चलती हैं रात में,
हाथ सेंकने को अपना ही घर जलाता हूँ।

कसम दी थी उसने कभी न रोने की मुझे,
यही वजह है कि आज भी मुस्कुराता हूँ।

हर काम किया मैंने उसकी खुशी के लिए,
तब भी जाने क्यों बेवफा कहलाता हूँ।

 

Haseen chehron ke liye aaine qurbaan kiye hain

हसीं चेहरों के लिए आईने कुर्बान किये हैं,
इस शौक में अपने बड़े नुकसान किये हैं,​
महफ़िल में मुझे गालियाँ देकर है बहुत खुश​,
जिस शख्स पर मैंने बड़े एहसान किये है।

 

 

Hume na mohabbat mil na pyar mila
humko jo bhi mila bewafa yaar mila

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला ।

अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई मकसद का तलबगार मिला ।

 

Humne chaha tha jise use dil se bhulaya na gaya,
Zakhm apne dil ka logon se chhupaya na gaya
Bewafa ke baad bhi pyar karta hai dil unse
Ki bewafai ka ilzaam bhi us par lagaya na gaya

हमने चाहा था जिसे उसे दिल से भुलाया न गया,
जख्म अपने दिल का लोगों से छुपाया न गया,
बेवफाई के बाद भी प्यार करता है दिल उनसे,
कि बेवफाई का इल्ज़ाम भी उस पर लगाया न गया।

 

Bewafa Shayari Two Lines for Whatsapp DP Status Profile Pic

Ikrar

इकरार बदलते रहते है… इंकार बदलते रहते हैं,
कुछ लोग यहाँ पर ऐसे है जो यार बदलते रहते हैं।

Ik umar tak main jiski zaroorat bana raha
Phir yun hua ki us ki zaroorat badal gayi

इक उम्र तक मैं जिसकी जरुरत बना रहा
फिर यूँ हुआ कि उस की जरुरत बदल गई।

 

Ilzaam na de mujhko tune hi sikhaayi bewafai hai
Dekar ke dhokha mujhko di ruswaayi hai
Mohabat mein diya jo tune wahi ab yu paayegi
Pachchtaana chhod de tu bhi auro se dhokha khayegi

इल्जाम न दे मुझको तूने ही सिखाई बेवफाई है,
देकर के धोखा मुझे मुझको दी रुसवाई है,
मोहब्बत में दिया जो तूने वही अब तू पाएगी,
पछताना छोड़ दे तू भी औरों से धोखा खायेगी।

 

 

Ishq ne jab maanga khuda se dard ka hisaab
unhone kaha husn wale aise hi bewafayi karte hain

इश्क़ ने जब माँगा खुदा से दर्द का हिसाब,
उन्होंने कहा हुस्न वाले ऐसे ही बेवफाई किया करते हैं।

 

Jal jal ke dil mera jalan se jal raha hai
Ek ashq mere aankh mein muddat se pal raha hai
Jiska main kar raha hoon ghut ghut ke intzaar
Wo bewafa na aai mera dum nikal raha

जल-जल के दिल मेरा जलन से जल रहा,
एक अश्क मेरे आँख में मुद्दत से पल रहा,
जिसका मैं कर रहा हूँ घुट-घुट के इंतजार,
वो बेवफा ना आई मेरा दम निकल रहा।

 

Jo huqm karta hai , wo iltaja bhi karta hai,
Aasmaan kahi jhuka bhi karta hai
Aur tu bewafa hai to ye khabar bhi sun le
Intzaar mera koi wahaan bhi karta hai

जो हुकुम करता है, वो इल्तज़ा भी करता है,
आसमान कही झुका भी करता है,
और तू बेवफा है तो ये खबर भी सुन ले,
इन्तेज़ार मेरा कोई वहा भी करता है.

 

 

 

 

Jo kehte the humse hain tere sanam
Wo daga de gaye dekhte dekhte

Dete mohabbat ka inaam kya
Wo sazaa de gaye dekhte dekhte

Sochta hoon ki wo kitne masum the
Wo bewafa ho gaye dekhte dekhte

जो कहते थे हमसे हैं तेरे सनम,
वो दगा दे गए देखते देखते।

देते मोहब्बत का इनाम क्या,
वो सजा दे गए देखते देखते।

सोचता हूँ कि वो कितने मासूम थे,
जो बेवफा हो गए देखते देखते।

 

 

 

Kabhi gham to kabhi tanhayee maar gayi
kabhi yaad aa kar unki judai maar gayi
Bahut toot kar chaha jisko humne
Aakhir mein unki hi bewafai maar gayi

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।

 

 

Kabhi jo hum se pyar beshumaar karte the
kabhi jo hum par jaan nisar karte the
Bhari mehfil mei humko bewafa kehte hain
Jo khud se zyada hum par aitbaar karte the.

कभी जो हम से प्यार बेशुमार करते थे,
कभी जो हम पर जान निसार करते थे,
भरी महफ़िल में हमको बेवफा कहते हैं,
जो खुद से ज़्यादा हमपर ऐतबार करते थे।
-आमिर विसाल

 

 

Kaise milenge hume chahne wale bataiye
duniye khadi hai raah mein deewar ki tarah
Wo bewafai karke bhi sharminda na huye
Sazaayein mili humein gunahgaar ki tarah

कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये,
दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह,
वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए,
सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह।

 

Bewafa Shayari in hindi for girlfriend

Kaise yakeen kare hum teri mohabbat ka
Jab bikti hai bewafai tere hi naam se

कैसे यकीन करें हम तेरी मोहब्बत का,
जब बिकती है बेवफाई तेरे ही नाम से।

 

Kaisi ajeeb tujhse ye judai thi
ki tujhe alvida bhi na keh saka
Teri saadgi mein itna fareb tha
ki tujhe bewafa bhi na keh saka

कैसी अजीब तुझसे यह जुदाई थी,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था,
कि तुझे बेवफा भी ना कह सका।

 

Kaun kehta hai hum uske bina mar jayenge
Hum to dariya hain samandar mein utar jayenge
Wo taras jayenge pyar ki ek boond ke liye
Hum to badal hain pyar ke
kahin aur baras jayenge

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे,
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे,
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बूँद के लिए,
हम तो बादल है प्यार के
कहीं और बरस जायेंगे…।

 

 

Bewafa Shayari in hindi for love images photos

Kaun si sayahi aur
kaun si kalam se likhta hoga
Jab wo kisi ke naseeb mein
ek bewafa likhta hoga

कौन सी स्याही और
कौन सी कलम से लिखता
होगा…
जब वो किसी के नसीब
में एक बेवफा लिखता
होगा।

 

Khush hoon

खुश हूँ कि मुझको जला के तुम हँसे तो सही,
मेरे न सही… किसी के दिल में बसे तो सही।

 

Kisi ki khatir mohabbat ki intehaan kar do
Lekin itna bhi nahi ki usko khuda kar do
Mat Chaho kisi ko toot kar iss kadar itna
Ki apni wafaon se usko bewafa kar do

किसी की खातिर मोहब्बत की इन्तेहाँ कर दो,
लेकिन इतना भी नहीं कि उसको खुदा कर दो,
मत चाहो किसी को टूट कर इस कदर इतना,
कि अपनी वफाओं से उसको बेवफा कर दो।

 

Kis

किस-किस को तू खुदा बनाएगी,
किस-किस की तू हसरतें मिटाएगी,
कितने ही परदे डाल ले गुनाहों पे,
बेवफा तू बेवफा ही नजर आएगी।

 

Likh Likh kar

लिख-लिख कर मिटा दिए
तेरी बेवफाई के गीत,
किया करती थी
तू भी वफ़ा एक ज़माने में।

 

Maana ki mohabbat ki ye bhi ek haqiqat hai fir bhi
Jitna tum badle ho utna bhi nahi badla jaata

माना कि मोहब्बत की ये भी एक हकीकत है फिर भी,
जितना तुम बदले हो उतना भी नहीं बदला जाता।

 

Maine kuchh iss tarah se khud ko sambhala hai
Tujhe bhulane ko duniye ka bharam paala hai
Ab kisi se mohabbat main kar nahi paata,
Isi saanche mein ek bewafa ne mujhe dhaala hai.

मैंने कुछ इस तरह से खुद को संभाला है,
तुझे भुलाने को दुनिया का भरम पाला है,
अब किसी से मुहब्बत मैं कर नहीं पाता,
इसी सांचे में एक बेवफा ने मुझे ढाला है।

 

 

Meri talash ka hai jurm
ya meri wafa ka kasoor
Jo dil ke kareeb aaya
Wohi bewafa nikla

मेरी तलाश का है जुर्म
या मेरी वफा का क़सूर,
जो दिल के करीब आया
वही बेवफा निकला।

 

Mohabbat se riha hona zaroori ho gaya hai
Mera tujhse juda hona zaroori ho gaya hai
Wafa ke tajurbe karte huye to umar guzri
Zara sa bewafa hona zaroori ho gaya hai

मोहब्बत से रिहा होना ज़रूरी हो गया है,
मेरा तुझसे जुदा होना ज़रूरी हो गया है,
वफ़ा के तजुर्बे करते हुए तो उम्र गुजरी,
ज़रा सा बेवफा होना ज़रूरी हो गया है।

 

Mujhe Ishq hai bas tumse naam bewafa mat dena
Gair jaan kar mujhe ilzaam bewajah mat dena
Jo diya hai tumne wo dard hum seh lenge magar
Kisi aur ko apne pyar ki sazaa mat dena

मुझे इश्क है बस तुमसे नाम बेवफा मत देना,
गैर जान कर मुझे इल्जाम बेवजह मत देना,
जो दिया है तुमने वो दर्द हम सह लेंगे मगर,
किसी और को अपने प्यार की सजा मत देना।

 

Mujhe shikwa nahi kuchh

मुझे शिकवा नहीं कुछ बेवफ़ाई का तेरी हरगिज़,
गिला तो तब हो अगर तूने किसी से निभाई हो।
~ ख़्वाजा मीर दर्द

 

Mujhe

मुझे उसके आँचल का आशियाना न मिला,
उसकी ज़ुल्फ़ों की छाँव का ठिकाना न मिला,
कह दिया उसने मुझको ही बेवफा…
मुझे छोड़ने के लिए कोई बहाना न मिला।

 

Naa Poochh mere sabar ki intehann kahan tak hai
Tu sitam kar le, teri hasrat jahan tak hai,
Wafa ki umeed , jinhe hogi unhe hogi
Hum to dekhna hai , tu bewafa kahan tak hai,

ना पूछ मेरे सब्र की इंतेहा कहाँ तक है,
तू सितम कर ले, तेरी हसरत जहाँ तक है
वफ़ा की उम्मीद, जिन्हें होगी उन्हें होगी,
हमें तो देखना है, तू बेवफ़ा कहाँ तक है।

 

 

Nafrat ko mohabbat ki aankhon mein dekha
Berukhi ko unki adaaon mein dekha
Aankhein namm huyi aur main ro pada
Jab apne ko gairon ki baahon mein dekha

नफरत को मोहब्बत की आँखों में देखा,
बेरुखी को उनकी अदाओं में देखा,
आँखें नम हुईं और मैं रो पड़ा…
जब अपने को गैरों की बाहों में देखा।

 

Na jaane kya hai unki udaas aankhon mein
Wo muh chhupa ke bhi jaaye to bewafa na lage

न जाने क्या है , उसकी उदास आंखों में,
वो मुँह छुपा के भी जाये तो बेवफा न लगे।

 

 

Nazaare to badalenge hi ye kudrat hai
Afsos to humein tere badalne ka hua hai

नज़ारे तो बदलेंगे ही ये तो कुदरत है,
अफ़सोस तो हमें तेरे बदलने का हुआ है।

 

Pehle ishq phir dhokha phir bewafayi
Badi tarqeeb se ek shakhs ne tabaah kiya

पहले इश्क फिर धोखा फिर बेवफ़ाई,
बड़ी तरकीब से एक शख्स ने तबाह किया ।

 

 

Pehle zindagi

पहले ज़िन्दगी छीन ली मुझसे,
अब मेरी मौत का वो फायदा उठाती है,
मेरी कब्र पे फूल चढाने के बहाने,
वो किसी और से मिलने आती है।

 

Raat

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई।

 

 

Samet

समेट कर ले जाओ अपने झूठे वादों के अधूरे क़िस्से
अगली मोहब्बत में तुम्हें फिर इनकी ज़रूरत पड़ेगी।

 

Subakti

सुबकती रही रात अकेली
तनहाइयों के आगोश़ में,
और वो काफिऱ दिन से मोहब्बत करके
उसका हो गया।

 

 

 

Tasweer

तस्वीर में भी बदले हुए हैं उनके तेवर,
आँखों में मुरब्बत का कहीं नाम नहीं है।

 

 

Tera khyal dil se mitaya nahi abhi

Bewafa maine tujhko bhulaya nahi abhi

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझ को भुलाया नहीं अभी।

 

Tere

तेरे इश्क़ ने दिया सुकून इतना,
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे,
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर,
कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।

 

 

Teri

तेरी चौखट से सिर उठाऊं तो बेवफा कहना,
तेरे सिवा किसी और को चाहूँ तो बेवफा कहना,
मेरी वफाओं पे शक है तो खंजर उठा लेना,
मैं शौक से मर ना जाऊं तो बेवफा कहना ।

 

 

Toota Dil to gham kaisa
Wo chale gaye to sitam kaise
Man bhara yaar badle
Bewafa huye saaf

To phir ishq ka bharam kaisa

टूटा दिल तो गम कैसा,
वो चल दिये तो सितम कैसा,
मन भरा यार बदले,
बेवफा हुए साफ,
तो फिर इश्क का भ्रम कैसा ।

 

 

Toote huye dil ne bhi uske liye dua maangi
Meri saanson ne har pal uski khushi maangi
Na jaane kaisi dillagi thi us bewafa se
ki maine aakhiri khwahish mein bhi uski wafa maangi

टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,
कि मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी।

 

 

Uske tark-e-mohabbat ka sabab hoga koi

उसके तर्क-ए-मोहब्बत का सबब होगा कोई,
जी नहीं मानता कि वो बेवफ़ा पहले से था।

 

 

 

Usne

उसने महबूब ही तो बदला है फिर ताज्जुब कैसा,
दुआ कबूल ना हो तो लोग खुदा तक बदल लेते है।

 

Wafa

वफ़ा की तलाश करते रहे हम,
बेबफाई में अकेले मरते रहे हम,
नहीं मिला दिल से चाहने वाला,
खुद से ही बेबजह डरते रहे हम,
लुटाने को हम सब कुछ लुटा देते
मुहब्बत में उन पर मिटते रहे हम,
खुद दुखी हो कर खुश उन को रखा,
तन्हाईयों में सांसे भरते रहे हम,
वो बेवफाई हम से करते ही रहे
दिल से उन पर मरते रहे हम।

 

 

Wo bewafa

वो बेवफा हर बात पे देता है परिंदों की मिसाल,
साफ साफ नहीं कहता मेरा शहर छोड़ दो।

 

 

Wo jale

जो जले थे हमारे लिऐ,
बुझ रहे हैं वो सारे दिये,
कुछ अंधेरो ने की थी साजिशें,
कुछ उजालों ने धोखे दिये.

 

 

Wo kab

वो कब का भूल चुका होगा हमारी वफ़ा का किस्सा,
बिछड़ के किसी को किसी का ख्याल कब रहता है।

 

 

Wo kehta hai ki majbooriyan hain bahut
Saaf lafzon mein khud ko bewafa nahi kehta

वो कहता है… कि मजबूरियां हैं बहुत…
साफ लफ़्ज़ों में खुद को बेवफा नहीं कहता।

 

 

Wo zamaane mein yun hi mashoor ho gaye dost
Hazaaron chahne wale the, kis kis se wafa karte

वो जमाने में यूँ ही बेवफ़ा मशहूर हो गये दोस्त,
हजारों चाहने वाले थे किस-किस से वफ़ा करते।

 

Ye

ये चिराग-ए-जान भी अजीब है,
कि जला हुआ है अभी तलक,
उसकी बेवफाई की आँधियाँ तो,
कभी की आ के गुजर गईं।

 

 

Ye nazar

ये नजर चुराने की आदत
आज भी नही बदली उनकी,
कभी मेरे लिए जमाने से और
अब जमाने के लिए हमसे।

 

 

Ye unki

ये उनकी मोहब्बत का नया दौर है,
जहाँ कल मैं था आज कोई और है।

 

 

Zindagi Bewafa Shayari in Hindi

Zindagi mein koi pyar se pyara nahi milta,
Zindagi mein koi pyar se pyara nahi milta,

जिंदगी में कोई प्यार से प्यारा नही मिलता,
जिंदगी में कोई प्यार से प्यारा नही मिलता,
जो है पास आपके उसको सम्भाल कर रखना,
क्योंकि एक बार खोकर प्यार दोबारा नही मिलता।

 

 

So , these were some of the best bewafa shayari in hindi images.

shayari in hindi love, shayari in hindi attitude, shayari hindi me, beautiful hindi love shayari, shayari in hindi sad, love shayari in hindi for girlfriend, hindi shayari dosti, shayari in hindi funny

Leave a Reply